VPN क्या है (What is VPN In Hindi )-केसे काम कर ता हे

आज के इस पोस्ट मे जानेंगे की VPN क्या है (What is vpn in hindi) । आपमे से कुछ ने देखा होगा और ज्यादातर ने सुना होगा कि फला आदमी, कम्पनी या सरकारी साइट Hack  हो गयी। हम यदि इस हैंकंग से बचना चाहते है तो हम कैसे बचेंगे। जब हम अपना डाटा किसी पब्लिक wifi से कही पर भेजते है तब उसके hack होने के बहुत चांस होते है.

हम यदि इस हैंकंग से बचना चाहते है तो हम कैसे बचेंगे। कुछ वेबसाइटस और कम्पनियॉ कुछ देशो मे बैन होते है और कुछ मे या ज्यादातर मे वे चलते रहते है लेकिन अगर हमे अपने देश मे जहॉ पर वे websites या कम्पनियॉ बैन है उन्हे देखना है तो हम कैसे देखेंगे। इन सभी समस्याओं का एक सबसे अच्छा समाधान है VPN जो हमारी websites को Hack होने से बचाता है साथ ही हमे कुछ अन्य feature भी प्रदान करता है जैसे Password Mangement और Online Backup आदि।

VPN क्या होता है। (What is vpn in hindi)

जब हमें बहुत ही महत्वपूर्ण Data Safe करके रखना होता है या Safe data Transfor करना होता है अपने Data  को hack होने से बचाना होता है . उस स्थीति मे जिस Program का हम सहारा लेते है वह VPN होता है. VPN का प्रयोग कोई भी कर सकता है .VPN किसी भी डाटा को  सुरक्षित रखता /करता है। VPN का प्रयोग हम सामान्य आदमी/Website Free मे कर सकतें हैं लेकिन अगर आपका Data  महत्तवपूर्ण है या गुप्त है तो हमे paid Vpn का उपयोग करना चाहिए क्योकि Paid VPN  हमे बहुत सारे feature उपलब्ध कराता है और Free VPN  मे हमारा Data पूरी तरह से सुरक्षित नही रह पाता है. क्योकि कुछ Export  Free VPN  जैसी सुविधाओं को तोड देते है। इसका उपयोग हम Computer और Mobile phone दोनो पर कर सकते है। आज VPN Services देने वाली कम्पनियो की भी कोई कमी नही है।

VPN क्या हे

VPN  काम कैसे करता है

जब हमे अपने Data को सुरक्षित रखना होता है या सुरक्षित नेटसर्फिंग करनी होती है उस स्थीति मे हम VPN का सहारा ले सकते है। जब हम VPN पर काम करते है और अपने Phone या Computer को VPN के साथ कनेक्ट करते है और किसी ऐसी वेबसाइट या ब्लॉग को खोलते है जो आपके देश मे बैन है तब हमारा फोन एक Local Network  की तरह कार्य करने लगता है और जब हम अपने कम्प्यूटर या फोन के Broswer में किसी website या Blog  को खोलते है तो हमारा लोकल वीपीएन उस देश मे जिस देश मे उस website का server है.

Web Hosting क्या है

उस वेबसाइट के server पर जाकर डाटा आपके कम्प्यूटर या मोबाइल फोन पर पहुॅचा देता है क्योकि उस देश मे ,जिस देश की वह वेबसाइट होती है . और उस देश के वीपीएन के साथ हमारे देश के वीपीएन का एक नेटवर्क बनकर हमारे कम्प्यूटर या मोबाइल फोन मे वेबसाइट खुलती है . उससे हमारे देश भी कोई उसे नही पकड सकता और दूसरे देश मे जहॉ वह हमे दिखा रही है वहॉ पर वह बैन नही होती है ठीक उसी प्रकार से वीपीएन Hackers  को भी चकमा देता है वह हमारा URL  बदल कर हमारी Websites को खोलता है जिससे कोई भी उसे Hack नही कर पाता है। जब एक देश की सरकार कुछ नही पकड पाती है तो एक हैकर क्या आपकी वेबसाइट को हैक कर सकता है शायद नही। लेकिन इसमे एक शायद है क्योकि कुछ लोग हैक कर देते है क्योकि वे यही काम करते है।

वीपीएन का प्रमुख काम

1.Connectionऔर wifi

VPN प्रमुख कार्य आपके कनेक्शन और आपके वाइफाई को सुरक्षित बनाये रखना होता है। आप जिस मोबाइल फोन पर कार्य करते है वह भी एक तरह का अपना निजि वीपीएन (सिम के रूप् में) इस्तेमाल करता है जिससे आपका फोन सुरक्षित रहता है और केवल आप ही अपने फोन से बात कर सकते है और अपना डाटा प्रोसेस कर सकते है जब तब आप अपने फोन पर अपने डाटा या फिचर के किसी और को यूज करने की परमिशन नही देते हो। बिलकुल यही बात वाइफाइ पर भी लागू होती है।

2.आपके डाटा की सुरक्षा

यदि आप VPN की सुविधा लेते हो और उसके बाद जब आप कोई कार्य करते है तो आपके डाटा की सुरक्षा भी वीपीएन के उपर होती है जिससे कोई उसे हैक नही कर सकता है और वीपीएन के उपर आप अपना डाटा कही भी रख सकते है।

3.सुरक्षित डाटा ट्रांसफर

अगर आपने वीपीएन की सुविधा ली है और आप कही पर अपना डाटा ट्रांसफर करना चाहते है तो वीपीएन आपके डाटा को सुरक्षित ट्रांसफर करने मे आपकी मदद करता है और आपका डाटा आपकी इच्छित जगह यानि वेबसाइट या जहॉ आप चाहते है पहुॅच जाता है।

4.डाटा बैकअप

वीपीएन आपके डाटा का आपकी परमिशन लेकर एक बैकअप बनाता है जिससे किसी गलती या और किसी कारण से आपके डाटा के खराब होने की स्थिति मे आपका बैकअप वाला डाटा आपके काम आता है और आप अपने नुकसान से बच जाते है।

5.पासवर्ड मैनेजमैंट

वीपीएन आपके पासवर्ड को मैनेज करता है और आपको एक सिक्योर पासवर्ड उपलब्ध कराता है। समय-समय पर आपको पासवर्ड बदलने के लिए रिमाइंडर भी देता है और किसी सिक्योरिटि हैक की स्थिति मे आपको वार्निंग भी देता है जैसे आप अपना डाटा कम्प्यूटर पर चलाते है और किसी दिन आप अपना डाटा अपने मोबाईल फोन पर एक्सेस कर लेते हो तो उस स्थिति मे आपका वीपीएन तुरन्त आपको वार्निंग देता है कि आपका डाटा किसी और डिवाइस पर खोला गया है क्या वह आप है अगर हॉं तो आपसे ईमेल या मैसेज के द्वारा कन्फर्म करवाता है और आपको सुरक्षित बनाये रखता है।

6.आपकी वेबसाइट और डाटा को हैक होने से बचाता है

यदि आप किसी वीपीएन की मदद से अपनी वेबसाइट को चलाते है तो कोई भी आपके डाटा और वेबसाइट को हैक नही कर सकता है और आप अपना काम सुकुन के साथ कर सकते है।

7.Block Website को खोलना

यदि आप अपने देश मे किसी ऐसी वेबसाइट को खोलना चाहते हो जिस वेबसाइट पर आपके देश मे बैन हो तब आप उस वैबसाइट को केवल वीपीएन के माध्यम से ही खोल सकते हो जैसा कि मैने उपर वीपीएन काम कैसे करता है नामक हैडिंग मे बताया है उस प्रकार से आप उस वेबसाइट को खोल कर देख सकते हो। पोस्ट ज्यादा लम्बी हो जायेगी इसलिए मै दोबारा नही बता रहा हूॅं आप उपर वीपीएन काम कैसे करता है नामक हैडिंग मे देख सकते है।

8.Password सुरक्षित रखना

यदि आप किसी प्राइवेट नेटवर्क को चलाते है तो आप वीपीएन की मदद से अपने नेटवर्क को सुरक्षित कर सकते है और किसी भी हैकर के सम्भावित हमले से बच सकते है।

TOR BROWSER क्या है

VPN  किसको इस्तेमाल करना चाहिए

यदि कोई अपने डाटा को सुरक्षित और सेफ तरीके से यूज करना चाहता है जिससे कि उसका डाटा कोई चुरा न सके या उसकी वेबसाइट का कोई गलत इस्तेमाल न कर सके तो उसे वीपीएन जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। मै यहॉ पर आपको कुछ ऐसे यूजर्स के बारे मे बताउंगा जो नियमित रूप से वीपीएन का इस्तेमाल करते है या फिर करना चाहिए।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#35ce8d” border=”0 none” radius=”0″]1[/wps_dropcap]सरकारी एजेन्सियांः-  वीपीएन के इस्तेमाल के मामले मे सबसे पहले सरकारी एजेन्सियां/कम्पनियां ही आती है क्योकि उनकी विभिन्न एजेन्सिज के पास ऐसे डाटा उपलब्ध होते है जिसकी बहुत से देशो और आपराधिक संगठनो को हमेशा ही जरूरत होती है उसे पाकर वे बडे से बडा नुकसान करने की फिराक मे रहते है और कई बार सिक्योरिटि मे चूक होने पर नुकसान कर भी देते है इसका उदाहरण कुछ ही महिने पहले एटीएम पासवर्ड की हैकिंग है जो एसबीआई जो कि एक सरकारी बैंक है जिसकी पासवर्ड सिक्योरिटि को तोडकर एटीएम पासवर्ड चोरी कर लिये गये थे।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#35ce8d” border=”0 none” radius=”0″]2[/wps_dropcap]बैंकः-  वीपीएन का सबसे बडा उपयोग कर्त्ता बैंक होता है और सबसे ज्यादा हैकर अटैक भी बैंको पर ही होते है क्योकि वहॉं पर हैकर को डाइरेक्ट पैसा मिल जाता है जिसे लेकर अगर वह भाग जाये तो फिर उसे कुछ करने की जरूरत नही होती है।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#35ce8d” border=”0 none” radius=”0″]3[/wps_dropcap]महत्तवपूर्ण वेबसाइटः-  सभी महत्तवपूर्ण वेबसाइटो को वीपीएन का इस्तेमाल करने की जरूरत होती है चाहे वह सरकारी हो या प्राइवेट।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#35ce8d” border=”0 none” radius=”0″]4[/wps_dropcap]छोटे-बडे व्यापारीः-  चाहे व्यापारी छोटा हो या बडा अपने डाटा की सुरक्षा के लिए सभी को वीपीएन की आवश्यकता होती है। वीपीएन आपके व्यापार को सुरक्षित तरीके से चलाने मे आपकी मदद करता है और आपकी साइट को हैक होने से बचाता है।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#35ce8d” border=”0 none” radius=”0″]5[/wps_dropcap]ब्लॉग वेबसाइट को खोलनाः-  यदि आप किसी ब्लॉक वेबसाइट को खोलकर देखना चाहते हो तो आपको वह केवल वीपीएन पर ही दिख सकती है इसके बारे मे मैने आपको उपर बता दिया है।

VPN Service चुनते समय ध्यान रखने योग्य बाते

जबसे वेबसाइट Hack होने के मामलो मे बढोत्तरी हुई है तब से VPN Service की भी बाढ सी आ गयी है और इसी बाढ मे कुछ या कहे बहुत सी ऐसी VPN service provider  कम्पनियां भी आ गयी है . जो कि Frud  है वे वीपीएन के नाम पर कुछ भी नही देती है . या फिर बहुत कम feture  ही उपलब्ध कराती है इसलिए आज के समय में अपनी वीपीएन प्रोवाइड कम्पनी को चुनते समय बहुत ही सावधानी रखने की जरूरत है जिन बातो का ध्यान हमे वीपीएन चुनते समय रखना है उनहे मै आपको कुछ पाइंट के माध्यम से बता रहा हूॅं

प्रतिष्ठाः-  आपको आपके वीपीएन को चुनते समय यह बात विशेष रूप से ध्यान मे रखनी होती है कि उस कम्पनी की मार्केट मे साख कितनी है जिसकी आप वीपीएन सर्विस लेना चाहते है वह कम्पनी कही फ्रोड तो नही है।

प्रदर्शनः-  आपको आपके वीपीएन को चुनते समय यह बात विशेष रूप से ध्यान मे रखनी होती है कि उस कम्पनी का प्रदर्शन कैसा है जिस कम्पनी का आप वीपीएन लेना चाहते हो उसका वीपीएन किस लेवल का काम करता है।

VPN जब आप अपना डाटा अपने क्लाइंट के पास भेजते है तब वीपीएन सेटअप के द्वारा एक एन्क्रिप्टेड कन्वर्ट डेटा फाइल को भेजते है वह एन्क्रिप्शन कितना सिक्योर होता है और किस लेवल का होता है वीपीएन चुनते समय उसी बात को हम ध्यान मे रखते है।

पारदर्शिताः-  वीपीएन चुनते समय विशेष ध्यान रखने योग्य बात यह है कि वीपीएन प्रोवाइडर आपके साथ कितनी पारदर्शिता दिखाता है उसकी प्राइवेसी पोलीसिज क्या है।

प्रयोग मे सरलः-  वीपीएन सर्विस प्रयोग करने मे सरल होनी चाहिए। कई बार ऐसा होता है कि हमे समझ ही नही आता कि हमे करना क्या है और कहॉं पर जाकर कौन सी सुविधा शुरू हो सकती है।

सपोर्टः-  यह बहुत ही महत्तवपूर्ण बात है कि वीपीएन प्रोवाइडर कम्पनी कैसी कस्टमर सपोर्ट प्रदान करती है क्योकि बहुत ही कम कम्पनियां ऐसी होती होती है जो 24 घंटे की सुविधा प्रदान करती है इसलिए इस फिचर पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

अन्य फिचरः-  उपरोक्त बातो के अलावा और क्या-क्या मिल रहा है यह बात अपने हिसाब और अपनी नोलेज के हिसाब से भी जरूर देखे।

वीपीएन कैसे शुरू करे (How To Start VPN)

यदि आप अपने कम्प्यूटर या मोबाइल मे वीपीएन सर्विस को चालू करना चाहते हो तो आपको उसको चालू करने के लिए मै हर वीपीएन की जानकारी तो नही दे सकता लेकिन एक उदाहरण देकर मै आपको नीचे बता रहा हूँ।

मोबाइल मे वीपीएन कैसे इन्स्टॉल करे (How To Install VPN In Mobile)

मोबाइल मे वीपीएन लोड करना बहुत ही आसान है। सबसे पहले अपने मोबाइल मे playstore से psiphon को डाउनलोड और install करे उसके बाद open करे। उसके बाद अपनी location set  करे और connect  पर click करे। बस इतना करते ही आपका VPN चालू हो गया। अब आप safe browse कर सकते है।

VPN for android

कम्प्यूटर मे वीपीएन कैसे इन्स्टॉल करे (How To Install VPN Incomputer)

कम्प्यूटर मे आपको मे बताते है। psiphon बोला के VPN software रे ता हे . पहेले उको दोव्न्लोड़ करो उसके बाद install करके connect कर दो . ता भी आपका VPN Connect हो जा ये गा .

psiphon for pc

आपको यह हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो और इससे कुछ सीखने को मिली हो तो इसे Like जरूर करें, अपने दोस्तो के बीच Share करें तथा आपके पास कोई भी Question हो तो नीचे Comment करके जरूर पुछें।

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम vivek dobriyal है. और में एक blogger हु। मैने engineering की है। और अब अपने blogs के ज़रिए infromation को सभी के साथ शेयर करता हु। मेरे blogs हमेशा research based होते है और मै अपने visitors को हमेशा सही जानकारी ही देने की कोसिस करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here