VPS Hosting क्या हो ता हे

दोस्तों आज हम इस post में जानेंगे कि vps hosting क्या होती है. vps hosting किस प्रकार से काम करता है. अगर आप को vps hosting को खरीदना हो तो आप कहाँ से और कैसे ख़रीद सकते है. vps hosting किस के लिए use किया जाता है. और vps hosting के क्या फायदे है.

दोस्तों अगर आप कोई website के through business run कर रहे है तो आप के लिए website की speed बहुत matter करती है. अउर आप नही चाहेगे की आपकी website किसी कारण से slow हो या आपका server down हो जाये. अगर आप की business website shared hosting पर run कर रही है और उस पर traffic daily बढ़ रहा है तो हो सकता है कि एक limit पर आने के बाद आप की website crash या फिर server down हो जाये. ऐसा इस लिए होता है क्यो की shared hosting में आप के resource किसी अन्य व्यक्ति के साथ शेयर किया जाता है जिस की आप के server की computing power पूरी तरह से आप के लिए नही होती है और अधिक traffic आने पर आप की website down हो जाती है.

वही अगर आप की business website किसी vps hosting पर रन कर रहे है तो यहाँ पर जितनी भी resources आप खरीदते है उन पर सिर्फ आप का हक होता है और आप की केवल उस के मालिक होते है. आप के resources को किसी अन्य के साथ शेयर नही किया जाता है. जिस की वजह से आप को काफी high और strong computing power मिलती है. जिससे कि आप की website पर कितना भी traffic आ जाये, आप का server उसे handle कर लेगा.

तो चलिए दोस्तों अब विस्तार से जानते है कि vps hosting क्या होता है. और यह कैसे काम करता है.

Vps Hosting क्या है
Vps Hosting क्या है

Vps क्या है.

Vps को हम virtual private server भी कहते है. Vps एक virtual machine है. जहाँ पर आपको virtually computer use करने के लिए मिलता है. जो कि cloud के द्वारा control किया जाता है. VPS Virtualization technology पे काम करता है. VPS cloud में available होता है जिसे हमे web hosting companies provide करवाती है. Vps को dedicated server की  तरह भी use में ले सकते है. Vps हमें खुद का एक private server बना के देता है जिसे हम dedicated server के तौर पर भी use में ले सकते है. Vps एक strong physical server पे install होता है.  Vps का use  हम खुद का operating system चलने के लिए करते है. इसमें हमको dedicated ram, hard disk, processor मिलता है. बिलकुल वैसे ही जैसे हमे कोई नया computer system खरीदते वक़्त मिलता है. ये cloud-based technology पे काम करती है.

Vps को हम काफी safe server भी कह सकते है. क्यो की इसमें हमे खुद का ip address भी मिलता है. जैसा की मैने बताया ये एक operating system की तरह होता है. तो आप भी operating system चला सकते है. ये एक virtual machine की तरह ही होता है. Vps एक virtual server का हिस्सा होता है जिसे virtualization technology पे बनाया गया है. अगर हम आसान भाषा में बात करे तो ये एक virtual machine है जिसे web hosting के रूप बेचीं जाती है. Vps में आप अपनी मर्ज़ी का कोई भी operating system पर run करवा सकते है. आप इसमें अपना कोई भी software install कर सकते है. यहाँ पर एक ही server में vartiual तरीके से एक से ज्यादा server है. जिसकी वजह से हमे इसका पूरा control मिल पाता है. Vps बहुत ही महंगी service है.

Vps कैसे काम करता है ?

Vps कैसे काम करता है

Vps hosting में.आप का server एक separate होता है जहाँ के resources को केवल आप ही अपने लिए इस्तेमाल कर सकते है. यहाँ पर आप के इस्तेमाल के लिए एक बड़े server में से छोटा सा server space जो कि virtualy तरीके से बनाया गया होता है. जब आप अपने website को vps में host करते है तो आप को यहाँ पर high security वाली तथा high और powerful computing मिलता है. जब आप किसी vps server को खरीदते है तो यह पर आप को एक तरह का cloud computer मिल जाता है. जिस में आप के पास ram, hard disk, cpu, graphic card, network card सभी चीज़े virtual तरीके से मौजूद होती है जिसे आप देख नही सकते है पर अपने computer की मदद से आप इसे use ज़रूर कर सकते है.

Cloud computing क्या होता है

Vps हम कहाँ से खरीद सकते है ?

Vps को खरीदना कोई बहुत ही मुश्किल काम नहीं है. इसे बहुत ही आसानी से ख़रीदा जा सकता है. मै इतना जरूर कहुगा की अगर आपको इसकी knowledge नहीं है तो इसे operate करना मुश्किल होता है. Vps को आप web hosting provider से बहुत ही आसानी से ख़रीद सकते है. जैसे की go daddy, blue host, hosting raja जो भी hosting provider आपको अच्छा लगे. आप उनसे बहुत ही आसानी ख़रीद सकते है. इसे खरीदने में कोई परेशानी नहीं आती. इसका price हर country में अलग अलग हो सकता है. इसकी एक महीने की कीमत लगभग एक हज़ार रूपए तक हो सकती है. Simply आप जहाँ से खरीदना चाहते है. उस website पे visit करे और वहाँ जा कर ख़रीद सकते है. Example  के लिए मै आपको go daddy से hosting कैसे ख़रीद सकते है step by step बताता हु.

  • सबसे पहले आपको godaddy website पे visit करना होगा.
  • यहाँ अपने all products वाले option पे आना है.
  • इसके बाद आपको hosting वाले option पे आना होगा. वहाँ आपको server का option मिलेगा.
  • Servers वाले option पे click करने के बाद वहा आपको virtual private server का option मिलेगा उस पर click करे.
  • इसके बाद एक पेज खुलेगा जहाँ आपको दो option मिलेंगे. windows और linux का वहाँ से जो आपको चाहिए हो select करे.
  • इसी पेज में नीचे आपको plans भी मिलेंगे जिनके अलग अलग prices है. आपको जो चाहिए हो उस पर click करे.
  • इसके बाद आप payment page पे आजाएगे. आप payment करके simply इसे खरीद ले.

एक अच्छे vps plan में क्या क्या features होने चाहिए.

  • Vps plan में आप check करलें की आपको कम से कम 2 core cpu मिलना चाहिए ताकि आपकी virtual computer की speed अच्छी रहे
  • आप अपने plan का disk space type check कर के क्या वह ssd है या नही. आपको vps plan में हमेशा pure ssd disk space ही मिलेगा.
  • आपको अपने plan में कम से कम 2GB ram ज़रूर लेना चाहिए ताकि इसे आपकी perfimance अच्छी बनी रहे.
  • आपको हमेशा अपने vps प्लान में कम से कम एक TB का bandwith ज़रूर लेना चाहिए ताकि आपका website slow ना हो जब उससे अधिक visitors आ जाए.
  • आप अपने vps प्लान में एक बार check कर ले की आपके plan में कितने domain मिल रहे हैं. और उसमें आपको कितने IP ADDRESS मिल रहे हैं. यह आपके plan की बुनियादी जरूरतें हैं.
  • किसी भी vps प्लान को लेने से पहले ये जांच ले कि आप का hosting provider आप को customer support देता है या नही. क्यो की अगर आप के server में कोई problem हो तो आप उन से बात कर के solve कर सके.

Vps का इस्तेमाल क्यों किया जाता है.

Vps का इस्तेमाल क्यों किया जाता है.

Vps server एक powerful और costly server है जो कि बड़ी और high traffic websites owners के लिए उपयोगी है. अगर आप की website छोटी है तो आप को इस server का उपयोग नही करना चाहिए. यह केवल बड़ी websites के लिए ही उपयोगी है. vps में आप को high computing power के साथ साथ high security भी मिलती है.

Local Area Network क्या होता है.

१.ज्यादा traffic वाली website के लिए

अगर आप एक से ज्यादा websites run करते हैं तो और आप shared hosting का उपयोग करते हैं तो आपकी पर websites पर जब ज्यादा traffic आता है तो आपका server slow होने लगता है. जिसके कारण visitors को website को serve करने में problem आती है और आप का website जल्दी load नहीं होता है. यह जरूरी नही है कि shared hosting में आपके सभी websites पर ज्यादा traffic आए तो ही आपका server slow हो. अगर आपके किसी एक particular website पर भी ज्यादा traffic आता है तो आप का server slow हो सकता है. इसलिए मैं आपको suggest करूँगा कि अगर आपके website पर अधिक मात्रा में traffic आता है तो आप को एक बार vps hosting का उपयोग ज़रूर करना चाहिए. इसकी performance की speed बहुत ही अच्छी होती है.

२.Powerful website या software बनाने के लिए

अगर आपको कोई power ful application या website बनाना चाहते हैं, तो आप अगर यहाँ पर आप shared hosting का प्रयोग करते हैं. तो आपको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. जब भी आपकी website या web appliccation पर अधिक traffic आएगा आपका server down हो जाएगा. जिससे की आपका server भी crash हो सकता है. तो इसके लिए आपको हमेशा heavy web application के लिए vps hosting ही use करना चाहिए. यहां पर आपको higher level को computing power मिलती है. जो कि आप के web application को आसानी से manage कर सकता है चाहे इस पर कितना भी traffic आ जाएं.

Vps के फायदे 

  • Vps का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपको इस server पर पूरा control मिलता है आप जैसे चाहें वैसे अपने server को configure कर सकते हैं. और अपने जरूरत के हिसाब से इसमें changes भी कर सकते हैं.
  • इसमे आप कोई भी os यानी कि operating system install कर सकते है. आपको vps server के लिए wide range में os उपलब्ध होते है जैसे कि linux, windows, Ubuntu, debian आदि उपलब्ध होते है. लेकिन इन सभी मे से मैं linux ही suggest करुँगा क्यो की इस मे security बहुत अच्छी मिलती है.
  • Vps server आप को dedicated private server के मुकाबले काफी सस्ते मिलते है और यह भी dedicated server की तरह ही powerful होते है. vps में भी आपको high speed server मिलता है जो कि dedicated server के जैसा ही होता है.

नुकसान

  • Vps hosting plans shared hosting plan के मुकाबले थोड़े महज होते है. अगर आप को vps plan खरीदने के पैसे नही है और आप को high speed server चाहिए तो आप cloud hosting की तरफ जा सकते है. यह vps hosting से काफी सस्ते होते है. लेकिन shared hosting से थोड़े से मंहगे होते है.
  • Vps server को हर कोई manage नही कर सकता है. इसको manage करने के लिए आपके पास technical skill होनी चाहिए और comoputer programing के बारे में पता होना चाहिए.
  • Vps में आपको shared hosting की तरह cpanel नही मिलता है आपको यहाँ पर cpanel को install करना पड़ता है. पर अब तो काई hosting provider आप को vps में cpanel provide कर रहे है.

Conclusion

दोस्तों आप ने इस post में जाना कि vps hosting (virtual private server) क्या होता है. vps hosting को आप कहाँ से और कैसे ख़रीद सकते है. vps hosting का इस्तेमाल कहाँ और क्यों किया जाता है. vps hosting के क्या फायदे होते है. और vps hosting के क्या नुकसान होते है.

दोस्तों vps hosting का उपयोग अक्सर बड़ी websites को manage करने के किये किया जाता है. जैसे कि कोई बड़ी blogging websites हो गयी या कोई बड़ी e-commerce website हो गयी. यहाँ पर vps hosting का उपयोग किया जाता है क्यो की इन websites पर बहुत अधिक मात्रा में traffic आता है. जिस की वजह से अगर यह shared hosting में website hosted होगा तो आप का website down या crash भी हो सकता है. जबकि अगर vps hosting में हुआ तो यहाँ पर crash नही होगा क्योंकि आप को vps में सब कुछ sapreted मिलता है आप के resourreces किसी के साथ share नही करते है.और vps hosting में आप को computer काफी powerful होता है जो किसी भी प्रकार के traffic को handle कर सकता है.

तो दोस्तों आप को हमारी यह जानकारी कैसी लगी आप हमें comment box में ज़रूर बताएं और इस post को अपने दोस्तों के साथ भी share करे ताकि उन को भी इस के बारे में जानकारी मिल सके. और यदि आप के मन मे इस post से संबंधित कोई प्रश्न है तो आप हम से comment के द्वारा पूछ सकते है हमे आप के प्रश्न का जबाब देने में खुशी होगी.

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम vivek dobriyal है. और में एक blogger हु। मैने engineering की है। और अब अपने blogs के ज़रिए infromation को सभी के साथ शेयर करता हु। मेरे blogs हमेशा research based होते है और मै अपने visitors को हमेशा सही जानकारी ही देने की कोसिस करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here