Ssl Certificate क्या है ,केसे काम करता हे

आज हम इस post में जानेंगे कि ssl certificate क्या है, ssl certificate किस लिए use में आता है, ssl कैसे काम करता है, ssl certificate के कितने प्रकार होते है, ssl certificate को कैसे और कहाँ से खरीद सकते है और ssl certificate के क्या फायदे है।

दोस्तों आज कल के दिनों में data चोरी होना आम बात सी हो गई। hackers किसी के भी data base में से कोई भी data की चोरी कर लेते है। और सोचिए यदि आप का data ऐसी website पर है जहाँ पर आप का personal या financial details मौजूद है तो आप का कितना नुकसान हो सकता है। इसी से बचने के लिए लोग अपने websites पर ssl certificate का उपयोग करते है। जब आप की website पर कोई व्यक्ति data को आप के साथ sahre करता है। तो ssl certificate आप दोनों के बीच एक security layer बना देता है। और आप के data को hackers से hack होने से बचता है। ssl certificate का उपयोग तब और भी जरूरी हो जाता है। जब आप की website e-commerence है या आप की website पर किसी प्रकार का finencial transaction होता है। बिना ssl certificate के कोई भी hacker data को चोरी कर सकता है। पर यदि आप ssl certificate का प्रयोग करते है तो आप का data कोई भी hacker hack नही कर सकता है।

तो चलिए अब हम विस्तार से जानते है कि ssl certificate क्या होता है और यह कैसे काम करता है।

Ssl Certificate क्या है

Ssl certificate क्या है।What is SSl in hindi

Ssl certificate एक तरह से आप को website पर security layer प्रदान करता है. इसका पूरा नाम secure socket layer होता है। यह आप को internet पर data को सुरक्षित आदान प्रदान करने में security देता है। ताकि इस दौरान आप के data को कोई तीसरा व्यक्ति चुरा न पाए। यह एक protocol है जो internet पर आप को security देता है। आज के दौर में यह बहुत ही ज़रुरी है। आप लोग आय दिन सुनते होंगे की किसी का data leak हो गया है या फिर किसी बड़ी company का data चोरी हो गया है।

अगर आप किसी website को चलते है तो भी आप के लिए ssl certificate बहुत ज़रूरी है। google भी अब उसी website को higher rank प्रदान करता है जिसके website पर ssl certificate enable हो। यदि आप कोई e-commerence website run कर रहे है उन लोगो के लिए तो ssl certificate भी ज़रुरी है. यहाँ पर आप उस website से persenol details के साथ साथ financial details भी share करते है। और अगर वो e-commerence website ssl enable नहीं है तो हो सकता है की जब आप अपना data fill कर रहे हो तब आप का data चोरी भी हो सकता है।

अगर आप कोई भी online transaction कर रहे है तब ये ज़रूर जांच ले की वह website ssl से protected है या नहीं। ssl certificate check करने के लिए आप को अपने web browser में ऊपर की तरफ url wale section के पास देखे, अगर वहाँ पर एक बंद lock नज़र आता है और वहाँ पर url के साथ https (https://hindiideas.com) भी लिखा है.

तो वो website ssl certificarte से protacted है और आप इस website पर safe है. तो यदि आप यहाँ  पर कोई  online transaction करते है तो वो safe transaction होगा और कोई भी hacker इसे hack नहीं कर सकता है।

Ssl certificate काम कैसे करता है।

Ssl में data को encrypt करने के लिए दो तरह के keys का इस्तेमाल होता है। personal key तथा private key का। इन दोनों keys में मदद से ही दो लोगो मे secure तरीके से data को आदान प्रदान होता है। जब हम किसी चीज़ को खरीदने के लिए किसी website को open करते है। तो server open होने के लिए ssl protocol का इस्तेमाल करता है। जब आप किसी website को open करते हो तो वो website आप के browser में public key की एक copy भेज देता है। जब आप का browser उस website को verify कर के approve कर देता है, तो फिर से उस server को एक encrypt message जाता है। web server उस message को decrypt करता है और browser को अपनी स्वीकृति देता है। उसके बाद user और web server के बीच safe data transfer होता है।

Google Plus kya hai?

Ssl certificate के कितने प्रकार है।

तो अब तक आप ने जाना की ssl क्या होता है और ssl certificate कैसे काम करता है। तो चलिए अब जानते है की ssl certificacte के कितने प्रकार होते है। और उन का उपयोग कहा और क्यों किया जाता है।

1.Standard Domain valid certificate

Standared ssl certificate का उपयोग अधिकतर bloggers करते है। इस certificate की security medium level की होती है। इसे कोई भी व्यक्ति आसानी से और बिना किसी झंझट के ख़रीद सकता है। यदि आप कोई blogger है, तो आप ssl certificate का इस्तेमाल केवल normal security और google search engine में ranking पाने के लिए कर सकते है। यदि आप के पास ssl certificate को खरीदने के पैसे नहीं है तो आप इसे free में भी प्राप्त कर सकते है।

2.Ev ssl certificate

यह ssl certificate खाश कर बड़ी organizations के लिए बनाया गया है। इसे कोई भी website owner नहीं ख़रीद सकता है। अगर आप इस certificate को लेना चाहते है तो आप को सबसे पहले अपने business और organization के बारे में बताना होगा और उस की verification भी करवानी होगी। जब आप का verification हो जायेगा तब ही आप इस certificate को issue करवा पाएंगे। इस certificate का use आज के वक़्त में banking websites, freelancing websites और कुछ बड़े orgnizations ही कर रही है। जब आप की website पर Ev ssl certificate लगा होगा तो यह दूसरे normol certificates से अलग दिखेगा यहाँ पर आप को एक बड़ा सा green pad lock दिखेगा जिस में आप के website का domain name भी होगा। यह ssl certificates आम ssl  certificates से काफी महंगे भी होते है।

3.San ssl ov

San ssl certificate एक ऐसा ssl certificate है जिस में आप एक ही ssl certificate से multiple websites को protect कर सकते है। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है की अगर आप multiple websites को use करते है तो आप उन सब को एक ही ssl से secure कर सकते है। यहाँ पर आप को सभी websites को separate ssl certificate से protect करने की जरुरत नहीं पड़ती है। लेकिन आप इस certificate का use केवल shared hosting में ही कर सकते है। अगर आप ssl को लेते है तो आप का पैसा भी बचेगा और time भी बचेगा। फिलहाल इस type का certificate केवल godaddy website ही offer कर रही है।

4.Wildcard ssl certificate

अगर आप wild card ssl certificate को लेते है तो आप इस certificate की मदद से अपने domain name के साथ sub-domain names को भी protect कर सकते है। यह ज्यादातर बड़ी companies या organization ही इस certificate को उपयोग करते हैं। ताकि वह अपने मुख्य domain name तथा बाकी के sub domains को भी एक ही ssl के द्वारा protect कर सकें। इसका मुख्य तौर पर educational field की websites ही प्रयोग करती है।

5.Code signing certificate

इस ssl certificate का इस इस्तेमाल केवल आप के software के codes को सुरक्षित रखने के काम आता है। और यह आप के files और application को भी सुरक्षित रखता है। अगर कोई व्यक्ति आप के codes को clone करता है। तो यह आप को उस के बारे में सूचित करता है। यह एक तरह का digital signature software है। जो ये बताता है कि यह code या software किसके द्वारा बनाया गया है।

Cpanel क्या होता है

Ssl certificate को कैसे और कहा से ख़रीदे।

आज के time में ssl certificate सभी website owners के लिए ज़रूरी है ये सिर्फ आप के website को security ही नही बल्कि google और bing जैसे search engine में high ranking भी देता है। आज आप अगर ssl certificate को purchase करना चाहते है तो बहुत सारी campanies market में है जो आप को सही दाम में ssl certificate provide करते है। जैसे कि godaddy, comodo ssl, hostinger, nemecheap इत्यादि। जब आप hosting service खरीदते है, तो कई companies आप को 1 year का free ssl certificate अपने plan के साथ ही दे देती है। लेकिन अगर आप कोई blog या छोटी website run कर रहे है और आप के पास अगर पैसे नही है ssl certificate को खरीदने के लिए तो भी आप को चिंता करने की कोई बात नही है। यहाँ market में एक company ऐसी भी है, जो आप को ssl certificate free में उपलब्ध कराती है। उसका नाम है let’s encrypt है। यह company बिल्कुल free में आप को ssl certificate देती है। जिस के द्वारा आप अपने blog को ssl से secure बना सकते है। इस comany को बहुत सारी बड़ी बड़ी companies sponsor कर रही है। जैसे कि google, facebook, mozilla etc. अगर आप free ssl लेना कहते है तो आप https://www.freessl.com/ पर जाकर ले सकते है। आप चाहे तो इन को direct donation भी दे सकते है।

Ssl certificate फायदे

  • यदि आप blogger है, तो Ssl certificate का सबसे बड़ा फायदा है कि आप को search engine में higher rank मिलेगा।
  • इसका फायदा ये भी है, कि ये आप के website की सभी data को encrypt करता है ताकि कोई भी hacker आप के website के data की चोरी न कर पाए।
  • अगर आप के website का site map search engine में submit नही हो रहा है, तो ssl certificate install करते ही आप का site map भी submit हो जाता है।
  • Ssl certificate की सबसे ज्यादा e-commerce websites की जरूरत होती है ताकि वो अपने visitors और buyers के data को safe रख सके।

Conclusion

तो दोस्तों आप न इस post में जाना कि ssl certificate क्या होता है। ssl certificate कैसे काम करता है। ssl certificate कितने प्रकार के होते है।और अगर आप को ssl certificate खरीदना चाहते है। तो उसके बारे में भी मैंने बताया है की कहाँ से और कैसे आप ख़रीद सकते है।

दोस्तों आज के वक़्त में अगर आप किसी blog या website को चला रहे है तो मै आप को यही suggest करुँगा की आप को ssl certificate का उपयोग ज़रूर करना चाहिए। अगर आप ssl certificate को इस्तेमाल नही करते है, तो जब कोई व्यक्ति आप के website को open करेगा तो browser आप के website को un-secure बताएगा और आप के website पर कोई visit भी नही करेगा। इस से आप का search engine raking में भी गिरने की संभावना होती है, क्यो की google भी secure website को ही value देता है। और अगर आप की website secure नही है तो आप की ranking down हो जाएगी।

दोस्तो हमारी यह जानकारी आपको किसी लगी आप हमें ज़रूर बताये और इस post को आप अपने bloogers दोस्तों के साथ शेयर जरूरत करे ताकि उन को भी इस के बारे में जानकारी मिल सके। और अगर आप के मन मे इस post से संबंधित कोई प्रश्न है, तो आप हम से comment के द्वारा पूछ सकते है। हमे आप के प्रश्नों के जबाब देने में खुशी होगी।

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम vivek dobriyal है. और में एक blogger हु। मैने engineering की है। और अब अपने blogs के ज़रिए infromation को सभी के साथ शेयर करता हु। मेरे blogs हमेशा research based होते है और मै अपने visitors को हमेशा सही जानकारी ही देने की कोसिस करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here