SSC क्या है -SSC Exam की तैयारी कैसे करे।

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे की एसएससी (Staff Selection Commission) की तैयारी कैसे करें।  जब आप स्कूल कॉलेज की पढ़ाई पूरी करके निकलते है तो सबसे बडा सवाल आपके सामने आपके रोजगार का होता है कि आप क्या करे कहां जाए। आपकी इस समस्या का SSC पूरी तरह से समाधान करता है।

एसएससी ग्रेड बी और सी लेवल के कर्मचारियों का चयन करता है जिससे वह ग्रेड बी के अधिकारी और ग्रेड सी में क्लर्क बनाता है अब आपके मन में सवाल आएगा कि SSC क्या है और इसकी तैयारी कब और कैसे करनी है मैं आपको इस पोस्ट में एसएससी के बारे में पूरी जानकारी दूंगा कि एसएससी क्या है और यह काम कैसे करता है और आप एसएससी एग्जाम की तैयारी कैसे करें।

ssc kya hai

Contents

एसएससी क्या है। (What is SSC in Hindi)

SSC (Staff Selection Commission ) की स्थापना सन 1977 में हुई थी एसएससी का पूरा नाम कर्मचारी चयन आयोग है जैसा कि नाम से ही जाहिर होता है एसएससी कर्मचारियों का चयन करता है जो बी और सी लेवल के होते हैं यह ठीक वैसे ही कार्य करता है जैसे कि आईबीपी सरकारी बैंकों के लिए कर्मचारियों का चयन करता है अगर आप केंद्र सरकार के अधीन कार्य करना चाहते हैं तो एसएससी आपको बेहतरीन अवसर प्रदान करता है और यह विभिन्न प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित करता है जैसे:-

  • CGL (Combined Graduate Level Exam)
  • CHSL (Combined Higher Secondary Level Exam)
  • Stenographer
  • JE (Junior Engineer)
  • CAPF (Central Armed Police Forces)
  • JHT (Junior Hindi Translator)

College Professor कैसे बने

1.CGL (Combined Graduate Level Exam)

यदि किसी को ब्लॉक सचिव खाद्य अधिकारी आयकर अधिकारी ऑडिटर जैसे अधिकारी बनना हो तो उन्हें एसएससी के अंतर्गत आने वाले सीजीएल के एग्जाम को देना चाहिए इसके लिए आपको स्नातक डिग्री धारी होना चाहिए यह कंपटीशन आपको बी ग्रेड ऑफीसर बनाता है।

2. CHSL (Combined Higher Secondary Level Exam)

एलडीसी क्लर्क बनने के लिए इस परीक्षा की तैयारी की जाती है इस परीक्षा में बैठने के लिए आपको कक्षा 12 उत्तीर्ण होना चाहिए यह कंपटीशन आपको सी ग्रेड कर्मचारी बनाता है अगर आप इस एग्जाम की पूरी तरह से तैयारी करना चाहते हैं तो मेरी वेबसाइट पर बने रहे और मेरी और पोस्ट पढ़ें।

3.Stenographer

स्टेनोग्राफर बनने के लिए इस परीक्षा की तैयारी की जाती है इस परीक्षा में बैठने के लिए आपको कक्षा 12 उत्तीर्ण होना चाहिए यह कंपटीशन आपको स्टेनोग्राफर बनाता है।

4.JE (Junior Engineer)

JE बनने के लिए इस परीक्षा की तैयारी की जाती है इस परीक्षा में बैठने की न्यूनतम योग्यता इंजीनियरिंग में डिप्लोमा है यह Competition आपको जूनियर इंजीनियर बनाता है।

5.CAPF (Central Armed Police Forces)

केंद्र सरकार में सशस्त्र पुलिस बल में भर्ती करने के लिए इस प्रकार के कंपटीशन की तैयारी की जाती है यह कंपटीशन आपको इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टर बनाता है।

6.JHT (Junior Hindi Translator)

इस एग्जाम में बैठने के लिए आपकी हिंदी और अंग्रेजी दोनों ही भाषाओं पर मजबूत पकड़ होना अनिवार्य है यह एक्जाम आपको हिंदी अनुवादक बनाता है।

स्कूल टीचर कैसे बनते है |

Ssc Exam की तैयारी कैसे करें

किसी भी कम्पीटीशन में बैठने के लिए यह सबसे बड़ा मुद्दा होता है कि हम कॉम्पिटीशन की तैयारी कैसे करें कहां जाएं क्या पढ़े बहुत से बच्चे टाइम खराब न करके तुरंत पढ़ाई में लग जाते हैं और कुछ बच्चे ट्यूशन कोचिंग करते हैं लेकिन फिर भी भी फेल हो जाते हैं बच्चों के कुछ समझ में नहीं आता है कि क्या करें मैं आपकी इस समस्या का आपके लिए एक समाधान लेकर आया हूं जो विषय वस्तु के साथ नीचे दिया जा रहा है।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]1[/wps_dropcap]पेपर के प्रारूप को समझे।

हमारा सबसे पहला काम पेपर के प्रारूप को समझना होना चाहिए कि हमारा पेपर किस प्रकार से बनता है जब तक हमें यह पता नहीं चलेगा की हमारा पेपर किस प्रारूप के आधार पर बनता है किस प्रकार के प्रश्न उसमें आएंगे या कहे कि हमें किस किस सब्जेक्ट की तैयारी करनी चाहिए।

एसएससी का प्रश्नपत्र कुल चार भागों में बटा होता है।

  1. सामान्य बुद्धिमत्ता (रिजनिंग)
  2. अंग्रेजी
  3. सामान्य जागरूकता
  4. संख्यात्मक अभियोग्यता

 

  • सामान्य बुद्धिमत्ता-इसमें कैंडिडेट की तार्किक शक्ति का परीक्षण होता है यह बहुत ही महत्वपूर्ण सब्जेक्ट होता है क्योंकि सबसे ज्यादा समय इसी में लगता है इसके लिए हमें नियमित अभ्यास की आवश्यकता होती है इसके अभ्यास के लिए बाजार में अनेको पुस्तकें भी आती है हम उनसे भी अभ्यास कर सकते है।
  • अंग्रेजी।-अगर आप हिंदी माध्यम के स्कूल में पढ़े हो तो अंग्रेजी हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए बहुत ही मुश्किल सब्जेक्ट होता है। अंग्रेजी अंतर्राष्ट्रीय भाषा होने के कारण और इसका क्रेज और ज्यादा बढ़ने के कारण अंग्रेजी सब्जेक्ट और भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है इसकी तैयारी हम ट्यूशन कोचिंग के माध्यम से भी कर सकते हैं और इंटरनेट से भी। ज्यादा महत्वपूर्ण है कि हम तैयारी करें।
  • सामान्य ज्ञान।-अगर हम प्रतिदिन टीवी पर समाचार सुनते हैं न्यूज़ पेपर पढ़ते हैं तो यह सब्जेक्ट कोई मायने नहीं रखता। क्योंकि इस सब्जेक्ट में सामान्य जानकारी प्रश्न के रूप में आती है और अगर हमें सामान्य जानकारियां नहीं है तो यह सब्जेक्ट हमारे लिए बहुत ही ज्यादा परेशानी पैदा कर सकता है और एग्जाम के टाइम पर इसकी तैयारी करना टेढ़ी खीर हो जाता है। अतः हमें इस सब्जेक्ट पर सामान्य रूप से पहले ही ध्यान दे देना चाहिए जिससे कि यह हमारे गले की हड्डी न बने। केवल न्यूज़ पेपर पढ़ना न्यूज़ देखना और सामान्य मैगज़ीन पढ़ना इस सब्जेक्ट की तैयारी करने का सबसे अच्छा तरीका है।
  • गणित।-यह भी बहुत समय लेने वाला सब्जेक्ट है रिजनिंग के बाद यही वह सब्जेक्ट है जो सबसे ज्यादा समय लेता है क्योंकि गणित के सवाल निकालने में बहुत समय लगता है इसलिए इस सब्जेक्ट की तैयारी विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है क्योंकि गणित ही वह सब्जेक्ट है जिससे बच्चे कक्षा 1 से पढ़ाई पूरी होने तक और फिर नौकरी लगने तक लगातार डरते रहते हैं।

उपरोक्त को समझाने का उद्देश्य आपको यह बताना है कि आप बिना अपने सब्जेक्ट जाने पढ़ने न बैठ जाए पढ़ने के लिए जरूरी मैट्रियल का होना बहुत जरूरी है वह जरूरी मेटल मैंने ऊपर की लाइनों में बता दिया है

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]2[/wps_dropcap]नोट्स बना कर पढ़ाई करें।

तैयारी करने का यह सबसे अच्छा तरीका है कि आप जो भी तैयारी कर रहे हैं उसके पहले नोट बना ले। जिससे आपको अपनी तैयारी करने में सुविधा होगी और बाद में रिवाइज करने में भी आसानी होगी।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]3[/wps_dropcap]सिलेबस के बारे में अच्छे से जाने।

आपको आपके सिलेबस के आधार पर तैयारी करनी चाहिए कुछ सब्जेक्ट तो हमने आपको ऊपर बता दिए हैं और एक सब्जेक्ट वह होता है जो एसएससी का फॉर्म भरते समय आप भरते हैं इन सभी का सही से एक सिलेबस बनाकर तैयारी करने से ही आप अपने टारगेट को पा सकते हैं।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]4[/wps_dropcap]टाइम टेबल के हिसाब से पढ़ाई करें।

अगर आप एसएससी की परीक्षा में उत्तीर्ण होना चाहते हैं तो सही तरीके से पढ़ाई करनी होगी और वह सही तरीका होता है टाइम टेबल के हिसाब से पढ़ाई करना आत: हम आपको यही सलाह देते हैं कि आप अपना अपने टाइम के हिसाब से एक उचित टाइम टेबल बनाए और फिर अपनी तैयारी करें।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]5[/wps_dropcap]टाइम टेबल पर ध्यान दें।

टाइम टेबल बना देने के बाद सबसे बड़ी समस्या होती है कि हम उस में अपने सब्जेक्ट को किस प्रकार फिट करें क्योंकि हम कुछ सब्जेक्ट हमारे पहले से ही तैयार होते हैं थोड़ा सा ध्यान उन पर भी देना होता है और कुछ सब्जेक्ट बिल्कुल भी तैयार नहीं होते हैं उन पर हमें बहुत ज्यादा ध्यान देना होता है मतलब अंग्रेजी आपने पढ़ी है उसमें आप बहुत अच्छे भी है लेकिन रिजनिंग के बारे में आपको कोई ज्ञान नहीं है तो आप को सबसे ज्यादा ध्यान रीजनिंग पर देना चाहिए जिससे कि आप की रिजनिंग का लेवल भी आप के अंग्रेजी के बराबर आ जाए क्योंकि एसएससी में नेगेटिव मार्किंग होती है और हम किसी भी सब्जेक्ट को कम नहीं कर सकते हैं

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]6[/wps_dropcap]टाइम टेबल को सब्जेक्ट के हिसाब से बनाए।

हम आपको यह सलाह देंगे कि आप अपना टाइम टेबल सभी सब्जेक्ट को ध्यान में रखकर बनाये क्योंकि टाइम टेबल केवल पढ़ाई का बनाएंगे तो गड़बड़ हो जाएगी कोई सब्जेक्ट बहुत अच्छे से तैयार होगा और कोई सब्जेक्ट कमजोर रह जाएगा इसलिए सभी सब्जेक्ट पर इस प्रकार से ध्यान दें कि सभी सब्जेक्ट मजबूती से तैयार हो ऐसा ना हो कि हम सभी सब्जेक्ट को बराबर टाइम दे दे। एक सब्जेक्ट कि हम सही से तैयारी ना कर पाए और अपने मजबूत सब्जेक्ट को बहुत ज्यादा टाइम दे दे। ध्यान से पढ़ाई करें।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]7[/wps_dropcap]पढ़ाई मन से करे तन से नहीं।

ऊपर लिखे गए हेडिंग का मतलब है कि जब हम पढ़ाई करने के लिए बैठते हैं तो हमारा मन भी पढ़ने का होना चाहिए ना कि केवल किताब हाथ में लेकर बैठे रहे कहने का मतलब यह है कि हमें इतनी पढ़ाई करनी चाहिए जितने कि हमारे मन से होती हो जबरदस्ती किताब हाथ में लेकर नहीं बैठे रहे जितनी आपकी क्षमता है उतनी देर ही पढ़ाई करें और टाइम टेबल भी अपनी क्षमता के हिसाब से ही बनाएं अगर आप एक घंटा पढ़ सकते हैं तो केवल 1 घंटे के हिसाब से ही टाइम टेबल बनाएं।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]8[/wps_dropcap]वीक सब्जेक्ट पर ज्यादा ध्यान दें।

जो भी सब्जेक्ट आपको लगता है कि यह आपके बिल्कुल भी वश में नहीं है उसकी तैयारी में विशेष ध्यान दें क्योंकि अगर आप अपने कमजोर सब्जेक्ट पर ध्यान नहीं देंगे तो वही आप को ले डूबेगा अपने वीक सब्जेक्ट के लिए विशेष तैयारी करें और उस पर ज्यादा ध्यान दें।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]9[/wps_dropcap]स्ट्रांग सब्जेक्ट पर कम ध्यान दें।

जिस प्रकार से विक सब्जेक्ट पर अधिक ध्यान देने की जरूरत होती है उसी प्रकार से अपने मजबूत सब्जेक्ट पर कम ध्यान देने की जरूरत होती है क्योंकि हम अपने सब्जेक्ट्स को ईमानदारी से बराबर टाइम नहीं बांट सकते हैं क्योंकि जो विषय हमारे बहुत मजबूत है उसके ऊपर हम ज्यादा ध्यान नहीं दे सकते।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]10[/wps_dropcap]टीवी न्यूज़ न्यूज़ पेपर और मैग्जीन।

सामान्य ज्ञान की तैयारी करने के लिए सबसे अच्छा साधन होता है कि हम रोजाना न्यूजपेपर और मैगजीन पड़े साथ ही टीवी पर न्यूज़ सुने जिससे हमारे एसएससी की परीक्षा में सफलता की ज्यादा संभावना हो क्योंकि यही सामान्य ज्ञान के पेपर को पास करने के आप को सबसे सही और अच्छा तरीका मिलेगा।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]11[/wps_dropcap]ऑनलाइन आर्टिकल।

ऑन लाइन आर्टिकल आज के समय में सबसे अच्छा साधन है और सबसे बड़ी बात है वह आपको आपके हर सब्जेक्ट में तैयार कर सकते हैं क्योंकि ऑनलाइन आपको केवल सर्च करने की जरूरत है आपके सामने आपके इच्छा के अनुसार विषय आ जाएगा जिसकी जानकारी आप पाना चाहते हैं ऑनलाइन आर्टिकल तैयारी करने का सबसे अच्छा स्रोत है।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]12[/wps_dropcap]टेस्ट प्रैक्टिस करें।

ऑनलाइन आपको टेस्ट की प्रैक्टिस करने के लिए बहुत सी वेबसाइट मिल जाएगी। जो आपके विषय की तैयारी भी कराएगी और साथ ही आपके टाइम और आपके कार्य क्षमता का आकलन करने में आपकी मदद भी करेगी इससे आप यह जान सकते हैं कि आप कितने समय में कितने सवाल हल कर सकते हैं और किस विषय में आप कितने अंक हासिल करने की क्षमता रखते हो।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]13[/wps_dropcap]पढ़ाई का तनाव न ले।

पढ़ाई करते समय बिल्कुल भी तनाव ना लें क्योंकि यह हमेशा जहर की तरह कार्य करता है और आप की कार्य क्षमता को कम करता है इसलिए मेरा सुझाव यह है कि बिल्कुल भी तनाव न ले और तनाव फ्री होकर पढ़ाई करें।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]14[/wps_dropcap]खेल तथा म्यूजिक।

पढ़ाई के साथ खेल तथा म्यूजिक का भी आनंद ले इससे आपकी कार्यक्षमता बनी रहेगी और आप तनाव महसूस नहीं करेंगे।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]15[/wps_dropcap]योगा।

अगर आप सुबह जल्दी उठकर योगा कर लेते हो तो इससे अच्छा कुछ हो ही नहीं सकता क्योंकि यह आपको पूरी तरह से तनाव से मुक्त कर देगा और आप मन लगाकर पढ़ाई भी कर सकते हो।

[wps_dropcap size=”1″ color=”#ffffff” background=”#dd3333″ border=”0 none” radius=”0″]16[/wps_dropcap]पोस्टिक आहार और नींद।

अच्छी पढ़ाई करने के लिए यह बहुत जरूरी हो जाता है कि आप अपनी नींद का भी ध्यान रखें और पर्याप्त नींद ले और अपने आहार का विशेष ध्यान रखें।

 

मैं समझता हूं कि ऊपर दिए गए सुझाव आपके काफी काम के हैं और आप उन पर अमल करके अपने आप को केंद्र सरकार के किसी न किसी विभाग में जरूर पास हो कर दिखाएंगे।

आपको यह Article अच्छा लगा हॉट और इससे कुछ सीखने को मिला हो तो इसे Like जरूर करें, अपने दोस्तों के बीच share करें तथा आपका कोई भी Question हो तो नीचे Comment करके जरूर पुछें।

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम vivek dobriyal है. और में एक blogger हु। मैने engineering की है। और अब अपने blogs के ज़रिए infromation को सभी के साथ शेयर करता हु। मेरे blogs हमेशा research based होते है और मै अपने visitors को हमेशा सही जानकारी ही देने की कोसिस करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here