Software क्या हे और कितने प्रकार हो ता हे |

आप लोग अगर computer का इस्तेमाल करते होंगे तो आप ने हमेशा software के बारे में सुना होगा. आज हम अपने जीवन में computer या mobile का इस्तेमाल बहुत अधिक करते है चाहे हमे किसी से बात करनी हो या फिर किसी बड़ी calculation को करना हो आज हम हर चीज़ को software और hardware की मदद से आसानी से कर लेते है पर यह हमेशा से संभव नहीं था. पहले जमाने के लोग हर काम को करने के लिए कड़ी मेहनत करते थे जैसे की किसी बड़ी calculation करना हो तो manually copy और pen से किया जाता था और किसी बड़ी calculation को करने में काफी टाइम लग जाता था पर अब ऐसा नहीं है आज की दुनिया में हर calculation चुटकियो में किया जाता है computer software और hardware की मदद से.

आज हम कहि से भी किसी भी file को internet के जरिये access कर सकते है अब हम अपने notes को copy पर नहीं बल्कि कंप्यूटर पर लिख कर save करके रखते है इसका एक सबसे बड़ा फायदा ये होता है की ये hard copies की तरह पानी या मौसम के प्रभाव से ख़राब नहीं होती और अगर हम उस note को 5 साल बाद भी खोल के देखे गए फिर भी वो आप को same ही मिले गए जैसा आप ने 5 साल पहले save कर के रखा था.

आज हम music सुनने के लिए online platform का प्रयोग करते है और जो गाना अच्छा लगे उसे download कर लेते है और video देखने के लिए video players का यहाँ तक की अब हम software की मदद से tv भी अपने mobile device पर देख लेते है किसी design को बनाने के लिए CAD का प्रयोग करते है chat करने के लिए whats app का ये सब कुछ सिर्फ और सिर्फ सॉफ्टवेयर की मदद से ही संभव हो सका है.

आज के समय में हम digital products से घिरे हुए है जैसे की mobile, computer, tablet, TV etc. ये सभी products software और hardware की मदद से ही चलते है किसी भी device को use या ,काम करने के लिए एक particular software और hardware की जरूरत परती है

 Software क्या है | (What is software in hindi )

Software एक ऐसी चीज़ है जिसे hum छू या महसूस नहीं कर सकते. यह computer का वह हिंसा होता है जो device के hardware को चलने में मदद करता है software के बिना आप किसी भी computer का hardware funcation यानि काम नहीं करेगा ये computer में आत्मा जैसा होता है जिसके बिना शरीर काम नहीं कर सकता है.

ये ठीक वैसे ही है जैसे मानव शरीर के अंदर आत्मा होती है बिना आत्मा के शरीर निर्जीव हो जाता है  वैसे ही बिना software के computer का hardware काम नहीं कर सकता है.

software kya hai

जैसे की किसी particulear काम को करने के लिए particuler software की जरूरत होती है मान लीजिए आप को drwing करना है या कोई लोगो बनाना है तो आप coral draw का प्रयोग करते है और photo बनाने के लिए photoshop का प्रयोग करते है वैसे ही आप को computer को run करने के लिए operating software की जरूरत होती है. वही hardware एक ठोस चीज़ होती है जैसे की mortherboard, ram, processor और graphic processor और software एक programming language में write की गयी codes का समूह  होता है जो उन को काम करने के लिए instructions देता है.

Software कैसे बनाया जाता है | 

अगर आप software developer बनना चाहते हैं तो आप को सबसे पहले कोई programming language सीखना पड़ेगा। programming language भी बहुत प्रकार के होते है जैसे कि java, c++, python इन के बारे में नीचे मैंने detail में बताने की कोसिस की है। अगर आप को software बनाने में interest है तभी आप इस field में काम करे वर्ण आप को शायद मुश्किल हो  है. क्योंकि यहाँ बिना आप बिना intrest के अधिक grow नहीं कर सकते इस field में रोज़ नए नए तकनीक विकसित होते रहते है इस लिए आप का intrest होना जरूरी है.

Programing language ही किसी भी application को बनाने की भाषा है इस में किसी program के funcation करने के लिए छोटे छोटे codes लिखे होते है जिनमे rules और तरीके होते है जिस से की computer समझता है और किसी task को पूरा करता है.

हम जितने भी internet पर software, play storeऔर windows store पर applications होते है सब इन्ही programming language से मिल कर बने होते है और हर application किसी particular काम को करने के लिया बना होता है जैसे की कोई media player application हो गया उस  सिर्फ video को देखने के लिया बनाया जाता है न की किसी editing के लिए.

ज्यादा तर बरी companies किसी program को बनाने के बहुत सरे programers को hire करती है और उन लोगो को उस software का छोटा छोटा हिंसा सब को बनाने के लिए दिया जाता है जिस में करीब 6 months से लेकर 12 months तक का time लग जाता है. ये companies softwares को बहुत मंहगे price में sell करती है और उन से ही programmers को salary मिलती है और एक softwrae developer की avg salary 50 हज़ार से 1 लाख तक की होती है.

⇒ What is LPG GAS In Hindi ?

Programming languages कौन कौन सी है 

वैसे तो आज के वक़्त में programing language available है पर में आप को कुछ famous और use में आने वाली programing language के बारे में ही बताउगा. तो चलिए जानते है उन programing languages के बारे में जो आप के लिए बहुत जरूरी है अगर आप एक अच्छा software developer बनना चाहते है.

  1. Python- यह programming language बहुत ही ज्यादा famouse हो गया है इस programming language का प्रयोग computer software, website बनाने, games बनाने के लिए use किया जाता है इस progaming language की ख़ासियत ये है की इसे में आप robotics की programing कर सकते है और AI (artificial inteligence) में भी की जाती है इसी लिए यह 2017 मे एक दम से programmers की favrate बन गयी.
  2. FORTRAN- जो पहली high level programing language “Plankalkül” थी जो की Konrad Zuse द्वारा बनाया गया था जो की 1942 से 1946 तक चला और जो पहली commercial programing language थी वो “FORTRAN” जो की 1956 में develop की गयी थी इसे John Backus ने IBM में बनाया था.
  3. C language- यह एक high level programming language है जो की आमतौर पर firmware और software बनाने के काम आता है इसका मुख्य रूप से computer application बनाने के लिए किया जाता है यह language “Dennis Ritchie” द्वारा Bell Labs में 1970 में बनाया गया था.
  4. Java- java c++ की तरह ही design किया गया है java का paryog complete application बनाने के लिए किया जाता है यह एक computer पर चल सकते है या network  में sever और client के बीच वितरित किए जा सकते हैं
  5. Java script- यह programming language बहुत popular है क्यों की इस में छोटे छोटे programes codes होते है जो की बारे बारे काम कर देते है इसे हम HTML के साथ भी use कर सकते है. यह एक open language है जिसे कह़ी भी उसे किया जा सकता है और ये बहुत lite codes होते है पर काम बहुत बारे करता है.
  6. HTML- इसका full form Hypertext Markup Language (HTML) होता है इसे web pages और web application बनाने के लिया किया जाता है इसके साथ CSS और java script का भी प्रयोग किया जाता है ताकि सभी funcagtion अच्छे से काम कर सके.
  7. Kotlin- android studio में अब इसका प्रयोग android apps बनाने के लिए किया जाता है इसी की मदद से सभी android apps तैयार किये जाते है इससे developers को android applications बनाने में आसानी होगी.
  8. PHP- language का प्रयोग website और web application बनाने के लिए किया जाता है यह एक open soucrelanguage है जिसे कोई भी सीख कर इसका प्रयोग कर सकता है.

Software के प्रकार | Types of software

हम सुबह से लेकर शाम तक computers पर अपना काम करते रहते है और तरह तरह के software का प्रयोग करते है.

Software दो प्रकार के होते है

  1. Computer software

ये वो software होते है जो हमारे computer system  चलने में मदद करते है और computer के background process को संभालते है  computer software ही होते है जो सभी software को संभालते है और उनको अच्छे से work करने में मदद करते है ताकि वो अपना task अच्छे से पूरा कर सके.

  • Operating software– operating software वो software होते है जो हमारे computer की primary जरुरत होते है इन्ही की मदद से हमारे सरे hardware काम करते है और funcation करते है ये computer और hardware में माध्यम का काम करता है यह बहुत बारे programes होते है और इसे बनाने में कई साल और बहुत man power भी लगता है जिस से इसका खर्चा बढ़ जाता है कुछ operating system ये है windows, Mac Os, Linux, android etc.
  • Language translator– ये high level programming language होते है  इन्हे programes को execute करने के लिए बनाया गया है ये पुरे programको एक बार में translate करते है और उसे काम करने के लिए instractions देते है.
  1. Application software

Application software वो software होत्ये है जो operating software के ऊपर काम करते है

  • Web browser – ये software आप को internet को access करने में मदद करता है और इस की मदद से आप web pages को खोल सकते है और उन को पढ़ सकते है अगर आप internet का इस्तेमाल करना कहते है तब आप को एक web browser appliction का इस्तेमाल करना ही पड़ेगा. कुछ popular web browsers- chrome, mozila, firefox, internet explorer है.
  • Data base– इसका प्रयोग किसी data base को create करने के लिए या data को manage करने के लिए किया जाता है ये आप के काम को आसान बना देता है.
  • Graphic software– इसका प्रयोग photos को बनाने और edit करने जाता है इसी के द्वारा किसी game में visulas को create कर पाना संभव होता है | इसी software का प्रयोग कर के हम लोगो या designs  बनाते है.
  • Video editors– video editors का प्रयोग videos की editing और video creating करने के लिए किया जाता है.  इन की मदद से ही हम किसी video में effects और sound को डाल कर उसे सुंदर बनाते है. आज की जितनी भी movies बनती है सब video editing softwares की मदद से ही बनाई जाती है और final touch up दिया जाता है.

 Software ke fayde | Benefit of softwares

आज हम पूरी तरह से किसी भी काम को करने के लिए computer software पर निर्भर हो गए है. यहाँ तक की अगर हमे कोई नंबर भी याद रखना हो तो वो भी नहीं रख पते क्यों की वो हम अपने mobile में सेव कर लेते है

Softwares  सभी कोमो को भी आसान बना दिया है आज हम किसी भी चीज़ को करने के लिए किसी न किसी software web application का प्रयोग  की मान लीजिए की  बिजली का बिल जमा करना है तो पहले लोग लंबी  लंबी lines में लग कर bill को जमा करवाते थे पर अब bills को अपने mobile device से सीधा internet और web applications के माध्यम से बिना लाइन में लगे ही आसानी से घर बैठे ही जमा करवा देता है.

इन softwares ने जहाँ हमारे कामों को आसान बनाया है वही हमे बहुत आलसी भी बना दिया है इनका हमारे जीवन पर बहुत गलत भी प्रभाव पर रहा है इन की वजह से हम अपने याद रखने की शक्ति हो खोते जा रहे है क्यों की हमे हर चीज़ computer या mobile पर save करने की आदत हो गयी. चाहे अब जो भी कहे पर आज के वक़्त में बिना इनके किसी भी काम को करना इंसानों के लिए असंभव तो नहीं पर मुश्किल ज़रूर हो सकता है और इन से छुटकारा पता भी अब संभव नहीं है क्यों की हमे इन की आदत  है.

Conclusion

आख़िरी में मैं आप को यही कहु  softwares ने हमारी जिंदगी और लगभग सभी कामों को आसान बना दिया है अब हमे लम्बे लम्बे calculations करने में समय नहीं गँवाना परता सब काम चुटकियो में हो जाते है और ये सब संभव हो पाया है तो सिर्फ softwares मदद से, तो अगर आप आप एक software developer है तो अपने आप पर proud feel कीजिए आप लोगो की वजह से ही आज ये सब संभव हो पाया है.

आप अपने computer या mobile में कौन से applicatoins का प्रयोग करते है ये हमे ज़रूर बताये तो आप को हमारा ये post कैसा लगा आप इसके बारे में अपनी राय ज़रुर दे और अगर आप के मन में कोई प्रसन हो तो हम से पूछ सकते है हमे आप को उतर देने में बहुत ख़ुशी होगी.

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम vivek dobriyal है. और में एक blogger हु। मैने engineering की है। और अब अपने blogs के ज़रिए infromation को सभी के साथ शेयर करता हु। मेरे blogs हमेशा research based होते है और मै अपने visitors को हमेशा सही जानकारी ही देने की कोसिस करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here